ट्रेनों में मजदूरों से नहीं लिया जा रहा 1 भी पैसा, बेशर्मी से झूठ फैला रही कांग्रेस पार्टी और फर्जी पत्रकार

ट्रेंडिंग

पिछले दिनों केंद्र सरकार और रेल मंत्रालय ने कई स्पेशल ट्रेन्स को चलाने की शुरुवात की है, ये स्पेशल ट्रेन्स इसलिए चलाई जा रही है ताकि गरीब मजदूर लोग अपने अपने राज्यों और अपने घरों तक पहुँच सके कई ट्रेन अभी ट्रैक पर चल रही है और लाखों की संख्या में मजदूर और गरीब लोग सफ़र कर रहे है और किसी से भी 1 हबी पैसा टिकेट के लिए नहीं लिया गया है किसी भी रेलवे स्टेशन पर 1 भी पैसे का टिकेट नहीं बेचा गया है, न ही किसी भी स्पेशल ट्रेन के लिए ऑनलाइन टिकेट बेचा गया है, रेलवे ने कोई टिकेट ही नहीं बेचा, 1 भी नहीं 

पर चूँकि मामला लाखों करोडो लोगो से जुड़ा हुआ हिया इसलिए कांग्रेस पार्टी बड़ी ही बेशर्मी पर उतर गयी है, और सोनिया गाँधी से लेकर कांग्रेस के बड़े छोटे नेता सफ़ेद झूठ ये फैला रहे है की केंद्र सरकार बड़ी निर्दयी है और स्पेशल ट्रेन्स के लिए गरीब मजदूरों से पैसे वसूले जा रहे है , 500-500 के टिकेट बेचे जा रहे है  कांग्रेस पार्टी की मदद फर्जी पत्रकार कर रहे हिया और ये सब झूठ फैलाने के लिए मैदान में कूद चुके है, उदाहरण देखिये 



Corona Warrior Manak Gupta@manakgupta

जिन मज़दूरों ने डेढ़ महीने से एक पैसा नहीं कमाया, उनसे घर जाने का किराया वसूल रहे हैं…!!!! ये महान आयडिया है किसका? राज्य सरकारें दें या या रेलवे…. या मिल कर दें. ग़रीब आदमी के ज़ख़्मों पर नमक न छिड़कें 🙏 @RailMinIndia @PIBHomeAffairs #mondaythoughts3,412Twitter Ads info and privacy1,003 people are talking about this
झूठ को राहुल गाँधी भी फैला रहा है
Rahul Gandhi@RahulGandhi

एक तरफ रेलवे दूसरे राज्यों में फँसे मजदूरों से टिकट का भाड़ा वसूल रही है वहीं दूसरी तरफ रेल मंत्रालय पीएम केयर फंड में 151 करोड़ रुपए का चंदा दे रहा है।

जरा ये गुत्थी सुलझाइए!

View image on Twitter

26KTwitter Ads info and privacy11.9K people are talking about thisसोनिया गाँधी तो खुद सामने आ गयी और कहा की – कांग्रेस पार्टी मजदूरों के टिकेट का पैसा देगी tv9gujarati@tv9gujarati

Congress state units will fund train tickets of needy migrant workers: Sonia Gandhi#TV9News

Embedded video

20Twitter Ads info and privacySee tv9gujarati’s other Tweets
ये शुद्ध रूप से बड़ी ही बेशर्मी वाली हरकत है, जब देश में संकट है, गरीब मजदूर अपने घरों के लिए निकल रहे हिया तब ये लोग पैनिक फैलाने में लगे है
1 भी टिकेट किसी को नहीं बेचा गया, 1 भी पैसा किसी से नहीं लिया गया, न स्टेशन पर टिकेट बेचा गया न ही ऑनलाइन बेचा गया, पर पूरा एको सिस्टम झूठ फैलाने के लिए सामने आ गया ताकि संकट के इस दौर में पैनिक की राजनीती की जा सके 

Leave a Reply

Your email address will not be published.