मस्जिदों के इमामों को तनख्वाह देने के लिए हिन्दू सिखों पर टैक्स लगाकर लूट रहा केजरीवाल ?

ट्रेंडिंग

दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने पिछले दो दिनों में 2 काम किये है और इन कामो को देखकर ये समझ में आने लगा है की केजरीवाल की सरकार दिल्ली में जनता को लूट रही है और अगर धार्मिक विश्लेषण किया जाये जो की बेहद जरुरी है तो साफ़ होगा की लूट हिन्दू और सिखों से की जा रही है केजरीवाल ने दिल्ली में शराब की कीमतों में रातों रात काफी बढ़ावा किया है, अब MRP से भी 70% ज्यादा देना होगा शराब के लिए



इसका मतलब ये है की जो बोतल 100 की थी वो आज से 170 रुपया की हो चुकी है, एक साथ सीधे 70% की बढ़ोतरीदिल्ली में शराब खरीदने वाले अधिकतर लोग हिन्दू और सिख ही है, तो 70% टैक्स की मार सीधे सीधे हिन्दू और सिख जनता पर ही पड़ी है दूसरा काम आज केजरीवाल ने ये किया की डीजल के 1 लीटर पर 7 रुपए 10 पैसा टैक्स लगा दिया, डीजल पर एक साथ इतना टैक्स दिल्ली में कभी नहीं लगाया गया, और ये काम केजरीवाल ने रमजान के महीने में कियाकेजरीवाल की इन दो हरकतों से साफ़ होता है की केजरीवाल दिल्ली में हिन्दू और सिख जनता पर टैक्स की मार मारना चाहता है, टैक्स की कमाई करना चाहता है और इसी पैसे से फिर मस्जिदों के इमामों को सैलरी दी जानी है, रामजनी गिफ्ट्स, इफ्तारी पार्टियाँ भी दी जानी है Kapil Mishra@KapilMishra_IND

चुनाव से पहले बिजली, पानी, बस टिकट फ्री का लालच देकर सत्ता में आया

डीजल के दाम 7 रुपये बढ़ा दिए – एक बार में डीजल इतना महंगा कभी नहीं हुआ

मतलब सब्जी, फल, आटा, दाल सबके दाम बढ़ेंगे

दारू और पानी के लिए सड़कों पर भीड़

दिल्ली के गरीबों को मौत के मुंह में झोंका जा रहा हैं https://twitter.com/capt_ivane/status/1257528384164257792 …Jitender Sharma@capt_ivaneदिल्ली में डीज़ल ₹ 7.10 पैसे महँगा और पेट्रोल ₹ 1.67 पैसे महँगा। #COVID19 के नाम पर महंगाई शुरू होने जा रही है।1,681Twitter Ads info and privacy786 people are talking about this
बता दें की केजरीवाल की सरकार हर महीने दिल्ली के हर मस्जिद के इमाम और अन्य लोगो को 44 हज़ार रुपया महिना तक देती है, ऐसी कोई सैलरी हिन्दू मंदिरो या सिख गुरुद्वारों को नहीं दी जाती 

2 thoughts on “मस्जिदों के इमामों को तनख्वाह देने के लिए हिन्दू सिखों पर टैक्स लगाकर लूट रहा केजरीवाल ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.