अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में हिन्दू छात्रों को चुन चुनकर घेरकर मार भगाने की हो रही प्लानिंग …..

ट्रेंडिंग

आज ही गुजरात के भुज की एक मस्जिद के लाउड स्पीकर से ये आवाहन रात को 2.20 मिनट पर किया गया की – घरों से हथियार लेकर निकलो और गुजरात को कश्मीर बना दो वहीँ दूसरी तरफ अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से भी मजहबी उन्माद की एक नयी जानकारी सामने आ रही है, यहाँ मजहबी उन्मादी चुन चुन कर हिन्दू छात्रों को निशाना बनाने, मार भगाने की प्लानिंग कर रहे है इस यूनिवर्सिटी में हिन्दू छात्र भी पढ़ते है और 2 हिन्दू छात्रों को निशाना बनाने की प्लानिंग की गयी है, इनमे से एक हिन्दू छात्र का नाम निखिल महेश्वरी और एक छात्रा का नाम प्रीति बाला है दरअसल इन दोनों हिन्दू छात्रों ने देश में बाद रहे आतंकवाद और उन्माद के खिलाफ सोशल मीडिया पर अपने विचार रखे थे, इनमे दिल्ली दंगों में पकड़ी गयी सफूरा जरगर भी शामिल है इसके बाद इन दोनों हिन्दू छात्रों को घेरकर, मार भगाने की प्लानिंग मजहबी उन्मादियों ने तैयार कर ली है और लगातार इन दोनों हिन्दू छात्रों को उन्मादियों द्वारा धमकी दी जा रही है @HRDMinistry @CMOfficeUP संज्ञान लेकर शीघ्र कार्यवाई करने कृपा करें, जिससे #AMU के अंदर छात्र भयमुक्त वातावरण में शिक्षा ग्रहण करने का कार्य कर सकें🙏🙏 pic.twitter.com/PzBhEDra7c

— Rajeshwar Singh (@rajmalan) May 8, 2020

After Gulf , radicals cultivating #Hinduphobia_In_AMU
Threats to research scholar nikhil maheshwari , medico Dr. Arjun and a female associate professor from computer science #AMU .
Urgent intervention required @HRDMinistry @shriniwas_hr @DrRPNishank @satishgautam72 @ABVPVoice pic.twitter.com/7BdSW5xb3T

— Dr. Nishit Sharma (@Nishitss) May 7, 2020
उन्मादी कह रहे है की – हिन्दू नमक हराम होते है,  भाई कुरान में साफ़ लिखा है की इन काफिरों से दोस्ती नहीं करनी चाहिए, ये सब काफ़िर गंदे है 


साथ ही उन्मादी ये भी कह रहे है की इनको मार भगाओ

मजहबी उन्मादी हिन्दू छात्रों को जान से मार डालने की प्लानिंग भी कर रहे है साथ ही धमकियाँ भी दे रहे है, धमकियाँ मिलने के बाद निखिल महेश्वरी ने पुलिस में भी शिकायत दर्ज कराइ है 

मजहबी उन्मादियों ने प्लानिंग की है की लॉक डाउन के बाद इन हिन्दुओ को चुन चुन कर घेरकर मार भगायेंगे, इन काफिरों को सबक सिखायेंगे 
पुलिस ने इस मामले में अभी तक क्या कार्यवाही की है ये अभी साफ़ नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published.