‘ट्वीट डिलीट किया तो तू दो बाप का’: ट्विटर यूजर ने रणदीप सूरजेवाला का कर दिया फैक्टचेक

ट्रेंडिंग

कॉन्ग्रेस पार्टी कोरोना वायरस की महामारी का लाभ अपनी खोई हुई राजनीति की जमीन को वापस लाने के लिए कर रही है लेकिन हर परिस्थितियाँ उनके लिए घातक ही साबित हो रही हैं।

कॉन्ग्रेस पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला एक बेहद भावुक और करुणामय तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट करते हुए आखिर क्या साबित करना चाह रहे थे यह बड़ा प्रश्न बन चुका है। क्योंकि जिस तस्वीर को पोस्ट कर के सुरजेवाला, PM मोदी से सवाल कर रहे हैं, वो उनकी ही पार्टी यानी, कॉन्ग्रेस शासित राज्य छत्तीसगढ़ की तस्वीर है।

रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया है, “मोदी जी, इन्हीं को जहाज़ में बिठाने का सपना बेचा था ना!”

इस तस्वीर में एक व्यक्ति एक बच्चे को ट्रक की छत पर चढ़ाते हुए देखा जा रहा है। शायद सुरजेवाला यह संदेश देना चाह रहे थे कि राज्यों में प्रवासियों को अपने घर जाने में किस तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

लेकिन इस तस्वीर की सच्चाई सामने आने के बाद लोगों ने रणदीप सुरजेवाला से इसे डिलीट ना करने की बात कही है।

@IntrepidSaffron नाम के ट्विटर एकाउंट ने सुरजेवाला की इस तस्वीर को ट्वीट किया है, जो कि एक समाचार पत्र में प्रकाशित हुई है। इसमें बताया गया है कि तस्वीर छत्तीसगढ़ की है।

@IntrepidSaffron ने इस ट्वीट में लिखा है – “फोटो छत्तीसगढ़ का है, जहाँ कॉन्ग्रेस सरकार है। अब अगर ट्वीट डिलीट किया तो तू दो बाप का।Intrepid Saffron@IntrepidSaffron

फोटो छत्तीसगढ़ का है जहां कांग्रेस सरकार है

अब अगर ट्वीट डिलीट किया तो,तू दो बाप का https://twitter.com/rssurjewala/status/1260074996929490944 …

View image on Twitter

Randeep Singh Surjewala@rssurjewalaमोदी जी,

इन्हीं को जहाज़ में बिठाने का सपना बेचा था ना!
948Twitter Ads information and privacy419 people are talking about this

अखबार की इस कटिंग में लिखा गया है – “छत्तीसगढ़ में रविवार को प्रवासियों की घर लौटने की जिद और संघर्ष की बानगी देखने की मिली। टाटीबंध चौक पर व्यक्ति एक हाथ में मासूम को लिया था और दूसरे हाथ से रस्सी पकड़कर ट्रक में सवार हो रहा था। ऐसी तस्वीर छत्तीसगढ़ में रोज दिख रही है।”

इसके बाद एक अन्य ट्वीट में रणदीप सुरजेवाला ने लिखा है, “मोदी जी, इन चप्पल वाले भारतीय श्रमिक भाईयों के लिए ‘बंदे भारत’ क्यों नहीं? आपकी संवेदनहीनता से करोड़ों श्रमिक असहाय महसूस कर रहे हैं! आज 8 बजे तो इनके बारे बताइए।”

उल्लेखनीय है कि कॉन्ग्रेस लगातार अपने सोशल मीडिया अकाउंट से ऐसी ही फर्जी तस्वीरों के जरिए यह साबित करने का प्रयास कर रही है कि कोरोना वायरस के कारण जारी बंद की वजह से अन्य राज्यों में फँसे हुए प्रवासी मजदूरों को अपने घर लौटने में बहुत समस्या हो रही है। यही नहीं, कॉन्ग्रेस नेता लोगों को भ्रमित करने के लिए बांग्लादेशी रोहिंग्या मुस्लिमों की तस्वीरों तक का सहारा ले रहे हैं।

ऐसी भावुक करने वाली तस्वीरों को शेयर करने से पहले रणदीप सुरजेवाला यह भूल गए कि छत्तीसगढ़ राज्य में उन्हीं की कॉन्ग्रेस की सरकार है और वह ऐसा कर के अपनी ही सरकार के कामकाज का फैक्ट चेक कर उनकी पोल खोल रहे हैं।

  

Leave a Reply

Your email address will not be published.