आदमी तो आदमी औरतें भी आतंकी – बिहार में हथियारों के जखीरे के साथ पकड़ी गयी रवीना खातून

ट्रेंडिंग

आखिर कहां जा रहा था मौत का ये सामान और किस के लिए दुरुपयोग होने वाला था ये तो पुलिस को तय करना है लेकिन इस मामले ने एक बार पूरे देश मे सनसनी मचा ही दी है.. 
जिस प्रकार से शाहीन बाग से और बाकी कई अन्य धरनास्थल से एक के बाद एक जहरीले बयान आ रहे थे उसके बाद ये माना जा रहा था कि कहीं न कहीं कुछ न कुछ बड़ा अनहोनी करने की तैयारी चल रही थी.. 

सुरक्षा एजेंसियां व पुलिस बल इसके लिए वृहद स्तर पर तैयारी कर रहा था और उसी तैयारी के चलते बिहार में मुजफ्फरपुर पुलिस को मिली है एल बड़ी सफलता जिसमें एक महिला गिरफ्तार हुई है घातक अस्त्रों के साथ..

ज्ञात हो कि ये सफलता बिहार पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स को मिली है जिसने मुजफ्फरपुर में एक बड़ी अनहोनी को टाल दिया है..एसटीएफ की टीम को 500 जिंदा कारतूस 6 मोबाइल फोन और एक मोटरसाइकिल मिला. पुलिस ने इस दौरान जिन चार लोगों को गिरफ्तार किया है उनमें से एक महिला तस्कर भी शामिल है.
एसटीएफ को गुप्त सूचना मिली थी कि कारतूसो का जखीरा इसी रास्ते जाने वाला है.जिसके आधार पर पुलिस ने कार्रवाई की. एसटीएफ की टीम को मिले कारतूसों में 7.65 बोर के 400 कारतूस शामिल हैंं जबकि 3.15 बोर के 100 कारतूस भी एसटीएफ को मिले हैं.
गिरफ्तार तस्करों की पहचान मोतिहारी जिले के बली आलम और इरशाद आलम रूप में हुई है जबकि बेगूसराय जिले के सम्सा गांव की रवीना खातून को भी गिरफ्तार किया गया है. सभी की गिरफ्तारी मुजफ्फरपुर के बैरिया बस स्टैंड से की गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.