दंगे से पहले उमर खालिद से मिलकर बोला ताहिर हुसैन – “तैयार हो जा, फ़रवरी में दिल्ली जलाएंगे, दंगा मचाएंगे”

ट्रेंडिंग

दिल्ली के मुस्लिम बहुल इलाकों में फ़रवरी के महीने में हिन्दुओ के खिलाफ बड़े पैमाने पर दंगे शुरू कर दिए गए, इस दंगे को शुरू करने वालो में स्थानीय आम आदमी पार्टी के नेता साथ ही साथ कांग्रेस के नेता और JNU-जामिया से जुड़े वामपंथी और उन्मादी भी शामिल थे इस दंगे में सबसे बड़ी भूमिका आम आदमी पार्टी ने निभाई थी और उसके स्थानीय पार्षद ताहिर हुसैन ने लगभग 2 महीने तक दंगे की तैयारी की थी ताहिर हुसैन दिसंबर के महीने से ही दंगे की तैयारी कर रहा था, दंगे के लिए उसने 1 करोड़ 30 लाख रुपए अपनी तरफ से खर्च किये थे, उसने कई बंदूकें भी खरीदी थी जो उसने दंगे से पहले उन्मादियों को बांटी थी, इसके अलावा पेट्रोल बम, तेजाब का भंडार भी खरीदकर उन्मादियों के घरों तक पहुँचाया था इस दंगे में ताहिर हुसैन की गिरफ़्तारी फ़रवरी में ही हुई थी और दिल्ली पुलिस ने अब चार्जशीट तय कर दी है और जो जानकारी सामने आयी है वो चौकाने वाली है 


दंगे से पहले ताहिर हुसैन ने JNU के उन्मादी उमर खालिद के साथ भी मुलाकात की थी, वही उमर खालिद जो भारत तेरे टुकड़े होंगे इंशाल्लाह इंशाल्लाह के नारे JNU में लगा रहा था, और वही उमर खालिद जिसे सेक्युलर और वामपंथी तत्व एक बुद्धिजीवी, ATHEIST, छात्र नेता इत्यादि बताते है ताहिर हुसैन ने उमर ख़ालिद से दंगों को लेकर पूरी प्लानिंग की थी और  कहा था की – “फ़रवरी में डोनाल्ड ट्रम्प इंडिया आने वाला है, तैयार हो जा, दिल्ली को उस समय जलाएंगे, दंगा मचाएंगे, आग लगा देंगे”1 महीने पहले ही ताहिर हुसैन ने उमर खालिद से कहा था की – पेट्रोल बम, तेजाब, पत्थर, चाकू, हथियार जमा करना शुरू कर दो, फ़रवरी में ऐसा आग लगाएंगे की दुनिया देखेगी OpIndia.com@OpIndia_com

Delhi riot charge-sheet: Tahir Hussain met Umar Khalid, Pinjra Tod activists sent messages asking Muslims to keep acid, petrol, hot water, stones readyhttps://www.opindia.com/2020/06/delhi-riot-charge-sheet-tahir-hussain-umar-khalid-pinjra-tod-message-violence/ …Explosive details of charge-sheet filed in Delhi riots caseThe Delhi riot charge-sheet prove beyond doubt that the violence was well planed and organised by Islamist and leftist activistsopindia.com1,222Twitter Ads info and privacy567 people are talking about this दंगे हुए और ताहिर हुसैन का नाम सामने आने लगा तो केजरीवाल ने ताहिर हुसैन को बचाने की पूरी कोशिश की, और उसके साथी सत्येंद्र जैन ने ताहिर हुसैन को एकदम निर्दोष भी बताया, पर जैसे जैसे वीडियो और सबूत सामने आने लगे, केजरीवाल ताहिर हुसैन पर चुप हो गया 
केजरीवाल इसके अलावा उमर खालिद का भी  साथी है, केजरीवाल ने देशद्रोह के केस वाली फाइल को कई साल तक दबाकर रखी ताकि उमर खालिद के खिलाफ कार्यवाही न हो सके, इन सभी ने फ़रवरी में दिल्ली को जलाया और कइयों को मारकर नाले में फेंक दिया जिसमे IB के अंकित शर्मा भी शामिल थे