खुलासा : तिब्बत पर कब्जे के लिए निकली चीनी सेना को नेहरू ने भिजवाया था चावल, राशन, खाने पीने का सामान

ट्रेंडिंग

आप जानकार चौंक जायेंगे की जब चीनी सेना तिब्बत पर कब्जे के लिए निकली थी तब नेहरू ने चीनी सेना को राशन भिजवाया थाराशन के तौर पर नेहरू ने चीनी सेना को हज़ारो किलो चावल भिजवाया था, ताकि चीनी सेना चावल पका कर खा सके और किसी भी प्रकार की कमी उसे न हो और तिब्बत पर आसानी से कब्ज़ा कर सके ये खुलासा किसी और ने नहीं बल्कि ब्रिटैन के ही सबसे बड़े अख़बार संडे गार्जियन ने किया है – 1949 में चीन ब्रिटैन से आज़ाद हुआ था, उस से पहले चीन पर ब्रिटैन का ही कब्ज़ा था, आज़ादी पाते ही चीन की सरकार ने तिब्बत पर कब्जे के लिए अपनी सेना भेज दी 


1950 में चीन ने तिब्बत पर कब्ज़ा कर लिया और दलाई लामा भाग कर भारत आ गए, इतना आपको पता होगा पर आपको ये नहीं पता होगा की नेहरू ने तिब्बत पर कब्ज़ा करने में चीन की सेना की जमकर मदद की थी Abhijit Chavda@AbhijitChavda

Nehru’s government supplied rice for the invading Chinese troops in Tibet in the early 1950s.

Without Nehru’s active support, the Chinese troops would not have been able to survive in Tibet.https://www.sundayguardianlive.com/news/nehrus-india-helped-china-conquer-tibet …‘Nehru’s India helped China conquer Tibet’ – The Sunday Guardian LiveArpi comes up with an explosive revelation: that Nehru’s India supplied rice for the invading PLA troops in Tibet in the early 1950s.   The Chinese invasion of Tibet, which culminated in the 1962 war…sundayguardianlive.com558Twitter Ads info and privacy479 people are talking about thisचीन की सेना तिब्बत की और गाड़ियों और पैदल रास्तों के जरिये बढ़ रही थी, उस समय नेहरू हिंदी-चीनी भाई भाई का नारा लगाता था और भाईचारा निभाने के लिए नेहरू ने चीन की सेना को राशन भिजवाया 
नेहरू की सरकार ने चीन की सेना के लिए हज़ारों किलो चावल भिजवाया ताकि चीनी सेना आसानी से चावल पका सके और उसके सैनिक कभी भूखे न रहे, भारतीय चावल को खाकर चीनी सेना ने तिब्बत पर कब्ज़ा कर लिया और आजतक तिब्बत चीन के ही कब्जे में है