JK के पूर्व DGP बोले – कश्मीर में हिन्दुओ को बसाना है तो उन्हें देना होगा हथियार और ट्रेनिंग

ट्रेंडिंग

कश्मीर में मजहबी उन्मादी हिन्दुओ को जिन्दा नहीं छोड़ेंगे, इसका ऐलान उन्होंने 1990 में भी किया था और अभी हाल ही में अनंतनाग में हिन्दू सरपंच अजय पंडिता को मौत के घाट उतारकर भी वही ऐलान किया गया
कश्मीर में मजहबी बहुल जनसँख्या है और हिन्दुओ के लिए कोई स्थान नहीं है, कश्मीर में भले ही हिन्दुओ को सरकार बसाने के लिए वापस भेज दे पर मजहबी उन्मादी उन हिन्दुओ को वहां जिन्दा नहीं छोड़ेंगे
ऐसे में हिन्दुओ को कश्मीर में बसाने का तरीका जम्मू कश्मीर के ही पूर्व पुलिस प्रमुख ने दिया, हम बात कर रहे है पूर्व DGP SP वैद्य की
SP वैद्य ने कश्मीर में हिन्दुओ को बसाने से पहले उनको हथियार और उसकी ट्रेनिंग देने की मांग का स्वागत किया है, उन्होंने कहा है की हिन्दुओ को कश्मीर में बसाने से पहले उनको हथियार और उसकी ट्रेनिंग देने में कोई बुराई नहीं है



SP वैद्य ने कश्मीर में ग्राम रक्षा समिति की स्थापना की मांग कर दी है, जिन गाँव में हिन्दुओ को बसाया जाये वहां एक समिति बनाई जाये और ये समिति हथियारों से लैस हो और गाँव की रक्षा कर सके
SP वैद नें कहा कि “विलेज डिफेंस कमेटी VDC फॉर्मूला को प्लानिंग के साथ लागू करने से कोई नुकसान नहीं है। वैद्य ने ये भी बताया कि जम्मू के चिनाब घाटी में हिंदुओं को हथियार दिए गए थे। इससे नब्बे के दशक में हिंदुओं के पलायन को रोकने में मदद मिली थी।
IndiaToday@IndiaToday

Former J&K DGP @spvaid speaks to India Today’s @sunilJbhat. He says that minority Hindus and vulnerable section of Muslims should be given arms training in the Kashmir valley for so that they can take on the terrorists. #ReporterDiary
Full video: https://bit.ly/2AYQpFU 

Embedded video

19Twitter Ads info and privacySee IndiaToday’s other Tweetsबता दें की कश्मीर से 5 लाख से ज्यादा हिन्दुओ को मारकर भगाया गया था और अबतक ये हिन्दू अपने घरों और गाँव में वापस नहीं जा सके है, कुछ हिन्दू कोशिश करते है तो उनका हाल अजय पंडिता की तरह कर दिया जाता है