अब चीन ने रूस के शहर को बताया अपना इलाका, गीदड़ की मौत आती है तब वो शहर की ओर भागता है, अब चीन की भी वही स्तिथि

ट्रेंडिंग

अमेरिका भी चीन से ज्यादा ताकतवर देश है, पर अमेरिका की समस्या ये है की वहां पर लोकतंत्र भारत के तरीके का ही है, वहां गद्दारों को बोलने और भोंकने की वैसी ही आज़ादी है जैसे भारत में है, चीन ने अमेरिका में भी पूरी लिबरल जमात को ख़रीदा हुआ है, पर रूस ऐसा देश नहीं है 
रूस में गद्दारों को गोली मारने का रिवाज है, वहीँ रूस में पुतिन एकछत्र राज करते है, इसी कारण चीन दुनिया में 1 ही देश से काँपता है वो है रूस
चीन की अब गीदड़ वाली स्तिथि हो चुकी है, भारत में कहा जाता है की जब गीदड़ की मौत आती है तब वो शहर की ओर भागता है और अब चीन की वही स्तिथि हो चुकी है 
दरअसल चीन ने अब अपने कई पड़ोसियों के बाद रूस के एक शहर को अपना इलाका बता दिया है, चीन के सरकारी मीडिया के एंकर ने रूस के शहर व्लादिवोस्टोक को अपना इलाका बता दिया और कहा की ये चीन का इलाका है जिसपर रूस ने कब्ज़ा कर रखा है 


चीनी मीडिया के एंकर शेन शिवेई ने कहा की व्लादिवोस्टोक चीन का इलाका है जिसपर रूस ने हमला करके 1860 में कब्ज़ा कर लिया था, देखिये 

यहाँ आपको बता दें की “व्लादिवोस्टोक” नाम भी चीनी नहीं बल्कि रुसी भाषा से निकला है पर चीन की ये पुरानी आदत है की वो दुसरे देशों के इलाकों को अपना इलाका बताता है, अपने कई पडोसी देशों के इलाकों को चीन ने इसी तरह अपना इलाका बताकर तनाव बढाया हुआ है और अपनी आदत से मजबूर चीन ने अब रूस के एक शहर को भी अपना इलाका बता दिया 
एक और बड़ी पुरानी कहावत है की पाप का घड़ा कभी न कभी भरता ही है, कदाचित चीन के पाप का घड़ा भी भर चूका है और उसकी स्तिथि गीदड़ वाली हो चुकी है जिसकी मौत आनी है और वो शहर की ओर भाग रहा है