अभी अभी राजस्थान की सियासत में पटखनी खाए पायलट ने कहा, ‘मैं बीजेपी में शामिल…’

ट्रेंडिंग

राजस्थान के अंदर सियासी घ’मासा’न म’च गया हैं. सचिन पायलट ने एक बार फिर से अपनी ही पार्टी के खिला’फ मोर्चा खोल दिया हैं. राजस्थान के अंदर जबसे सरकार  बनी है. तबसे सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच अन’बन चल रही थी. सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट मुख्यमंत्री बनना चाहते थे. लेकिन कांग्रेस आलाकमान ने अशोक गहलोत को वहां का सीएम बना दिया. तबसे अशोक गहलोत और सचिन के बीच अनब’न चल रही हैं. आपको बता दें सचिन पायलट को उनके पद से हटा दिया गया. जिनके बाद उनका बयान सामने आया. इसके बाद उन्होंने अपने बायो को भी बदल दिया हैं. आइये आपको बताते हैं.

राजस्थान के उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटाए जाने और बीजेपी में शामिल होने के कयासों के बीच कांग्रेस के बागी नेता सचिन पायलट ने कहा कि मैं बीजेपी में शामिल नहीं हो रहा हूं. सचिन आज प्रेस काफ्रेंस कर अपनी रणनीति का खुलासा कर सकते हैं. ऐसे में देखना होगा कि आगे किस दिशा में वे अपना कदम बढ़ाते हैं. स्पीकर की तरफ से सचिन पायलट समेत 19 विधायकों को नोटिस भेजा गया है और 17 जुलाई तक अपना रुख साफ करने को कहा गया है. फिलहाल सचिन अपने वकीलों से बातचीत कर रहे हैं. विधायकों को विधानसभा सदस्यता रद्द करने का नोटिस भेजा गया है. सूत्रों के मुताबिक सचिन पायलट नई पार्टी भी बना सकते हैं.

सचिन पायलट को उपमुख्यमंत्री और राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष पद से हटाए जाने के तुरंत बाद एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु पूनिया ने भी मंगलवार को पद से इस्तीफा दे दिया. पूनिया ने कहा कि युवक कांग्रेस, राष्ट्रीय भारतीय छात्र संघ (एनएसयूआई) और सेवा दल में विभिन्न पदों पर रहे कई सदस्यों ने ताजा घटनाक्रम के विरोध में इस्तीफा दे दिया है.