अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय एक बार फिर से सुर्खियों में, राज्य महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी ने भी एसएसपी को पत्र लिखा

ट्रेंडिंग

भारत का जाना माना विश्वविद्यालय अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय जो एक बार फिर से सुर्खियों में बना हुआ है! इस यूनिवर्सिटी में गैर मुस्लिम छात्र छात्राओं के साथ किस प्रकार का व्यवहार होता है इसको लेकर एक बार फिर से यह विश्वविद्यालय सुर्खियों में छाया हुआ है! दरअसल मामला जो सामने आ रहा है वह बुलंदशहर का है वहां की रहने वाली एक गैर मुस्लिम छात्रा ने आरोप लगाया है कि सोशल मीडिया पर उन्हें हिजाब पहनने की ध-मकी दी जा रही है!

इस मामले के बाद छात्रा ने एसएसपी को शिकायत की है और पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है! सोशल मीडिया पर हिजाब पहनने की ध-मकी देने वाला शख्स अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय का बताया जा रहा है! मामला इतना बढ़ गया है कि अब राज्य महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी ने भी एसएसपी को पत्र लिखा था!

एएमयू की छात्रा ने एसएसपी को कहा कि वह सोशल मीडिया पर सिर्फ अपने विचारों को शेयर करती है जिन पर कुछ लोग कमेंट करके विरोध करते हैं! छात्रा ने बताया कि नागरिकता कानून और एनआरसी के समर्थन में भी जब पोस्ट डाली थी तो उनके पास अभद्र मैसेज भेजे गए! फरवरी महीने में छात्रा नहीं कॉलेज में बाहर से जो लोग घुसे थे उनको लेकर पोस्ट किया था जिसके अंदर लिखा था कि कई लोग इस विद्यालय की स्वतंत्रता को छीनने का प्रयास कर रहे हैं! भारत की शिक्षा ऐसी हो गई है कि अब हमें स्वयं को ढक कर रखने का ही पाठ पढ़ा रहे थे!

किसी पोस्ट के ऊपर कई टिप्पणियां की गई जिसके बाद एक छात्र ने अपने सारी हदें पार करते हुए कहा कि लड़की को पीतल का हिजाब पहन लेना चाहिए! यानी छात्र ने लड़की को पीतल का हिजाब पहनने तक की बात कर दी! छात्र ने छात्रा की पोस्ट पर भरा रिप्लाई भी किया कहा कि इंशा अल्लाह आपको भी हिजाब बनाया जाएगा वह भी पीतल का! एएमयू छात्रों के इस ट्वीट के बाद जिस तरह से उसको अन्य छात्रों से लगातार रिप्लाई मिल रहे थे उससे छात्रा परेशान हो गई!

अब इस पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं सीओ ने बताया है कि सिविल लाइन थाने में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के बीआर्क के छात्र राहबर दानिश के खिलाफ आईटी एक्ट की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है!