हजारों फीट की ऊंचाई पर कैसे रोमांच और साहस दिखाते हैं इंडियन एयरफोर्स के ये जवान, देखें वीडियो

ट्रेंडिंग

नई दिल्ली: 74 वां स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को मनाया जाएगा। देश की आजादी में सेना के जवानों का अदम्य साहस और गौरव का परिचय सामने आता है। अपने जवानों के अदम्य साहस और शौर्य को देखना हर देशवासी के मन में गर्व का भाव पैदा करता है। 

इंडियन एयरफोर्स ने वायु सेना के इसी साहस से परिचय कराने के लिए रविवार को एक वीडियो ट्वीट किया। भारतीय वायु सेना ने इस वीडियो के जरिए बेहतरीन स्काईडाइविंग टीम ‘आकाशगंगा’ से देशवासियों को मिलाया है। एयरफोर्स ने वीडियो ट्वीट कर लिखा, भारतीय वायु सेना की बेहतरीन स्काईडाइविंग टीम ‘आकाशगंगा’ से मिलिए जो बादलों का पीछा और पक्षियों से होड़ करती है। 

दरअसल, इसकी शुरुआत 1970 के दशक की शुरुआत में होना बताया जाता है। जब रक्षा कर्मियों ने युद्ध संचालन के लिए अपने हवाई हमले की तकनीक को सुधारने की कोशिश की थी। 

यह अभ्यास जल्द ही एक शांति काल के साहसिक खेलों में विकसित हुआ और 1987 में वायुसेना ने आगरा में वायु सेना स्टेशन में आकाश गंगा का शुभारंभ किया। आकाशगंगा वायु सेना की टीम में पैराट्रूपर ट्रेनिंग स्कूल के सबसे समर्पित, कुशल और साहसी पैरा प्रशिक्षक शामिल होते हैं। पैराट्रूप ट्रेनिंग स्कूल (पीटीएस) में प्रशिक्षकों के उत्साह और अनुभव ने स्काई डाइविंग में वृद्धि हासिल कर एक बेहतरीन टीम बनाई है।