मानवता को खतरे में डालने के लिए चीन पर US में 20 ट्रिलियन का केस दायर, सुनवाई शुरू

ट्रेंडिंग

कोरोना वायरस चीन का बायो केमिकल हथियार है जिसके जरिये चीन ने मानवता को खतरे में डाल दिया, हजारों लोगो की जान जा चुकी है, लाखों लोग अस्पतालों में भर्ती है और करोडो लोग लॉक डाउन हो चुके है इसके साथ साथ देशों की इकॉनमी बर्बाद हो रही है, व्यापार बर्बाद हुए है, चीन में अपने सीओ केमिकल हथियार से दुनिया में आतंक और तबाही मचाई है और इसी को लेकर चीन पर अब अमेरिका की अदालत में 20 ट्रिलियन डॉलर का केस दायर कर दिया गया है ये केस अमेरिका के टेक्सास राज्य की अदालत में दायर किया गया है और इसमें 3 के खिलाफ मुकदमा चलाया जा रहा है, चीनी सरकार और चीन का राष्ट्रपति जिनपिंग, चीनी सेना और उसका कमांडर और वुहान का लैब जहाँ चीन कई सालों से वायरस कर काम कर रहा था और वहीँ से ये कोरोना वायरस दुनिया भर में फैला है 

चीन के खिलाफ इस केस को अमेरिका की मशहूर हस्ती लार्री क्लेमैन ने डाला है और अदालत में कई तरह के सबूत भी दाखिल किये गए है, केस की सुनवाई शुरू भी हो चुकी है 

लार्री क्लेमैन ने अदालत को बताया है की चीनी सरकार ने कोरोना वायरस बनाया है जो की चीन का बायो केमिकल हथियार है, इसे साबित करने के लिए अदालत में सबूत भी जमा करवाए गए हैलार्री क्लेमैन ने अदालत को बताया है की चीन ने इस हथियार के जरिये दुनिया भर में अर्थव्यवस्था को बर्बाद किया है, और मानवता को खतरे में डाल दिया है, चीन के इस हथियार के कारण ही आज दुनिया में संकट उत्पन्न हो चूका है जिसका अभी तक कोई हल नहीं निकल सका है लार्री क्लेमैन ने अदालत से मांग की है की मामले की सुनवाई पूरी की जाये और चीन पर 20 ट्रिलियन डॉलर का जुर्माना लगाया जाये, आपकी जानकारी के लिए बता दें की 20 ट्रिलियन का जुर्माना चीन की GDP से भी ज्यादा है