मुगलसरांय और इलहाबाद स्टेशन के बाद बाद अब इस स्टेशन का बदलेगा नाम, गृहमंत्रालय ने दी मंजूरी…….

ट्रेंडिंग

यूपी के वाराणसी जिले में स्थित मंडुवादीह रेलवे स्टेशन को अब बनारस स्टेशन के नाम से जाना जाएगा। केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने इसे मंजूरी दे दी है। बता दे कि यूपी सरकार ने वाराणसी जिले में स्थित मंडुवा डीह रेलवे स्टेशन का नाम बदलने का अनुरोध केंद्र सरकार से किया था, जिसे केंद्र ने मंजूर कर लिया। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने जानकारी दी कि मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर बनारस करने के लिए अनापत्ति प्रमाणपत्र जारी कर दिया गया है।

गौरलतब है कि गृह मंत्रालय नाम बदलने के प्रस्तावों पर पहले संबंधित एजेंसियों के साथ विचार-विमर्श करता है फिर वर्तमान दिशा-निर्देशों पर भी विचार करता है। एक अधिकारी ने जानकारी दी कि गृह मंत्रालय किसी भी स्थान के नाम परिवर्तन के प्रस्ताव पर रेल मंत्रालय, भारतीय डाक और सर्वेक्षण विभाग से अनापत्ति प्राप्त करने के बाद ही मंजूरी प्रदान करता है। अधिकारी ने बताया कि गांव, कस्बे या शहर के नाम में परिवर्तन के लिए कार्यकारी आदेश की आवश्यकता होती है।

दो साल पहले भी बदला था नाम 

वहीं किसी राज्य का नाम बदलने के लिए संसद में साधारण बहुमत से संविधान संशोधन जरूरी होता है। बता दें कि दो साल पहले उत्तर प्रदेश के ही मुगलसराय जंक्शन का नाम बदल दिया गया था। केंद्र सरकार ने इस स्टेशन का नाम बदल कर पंडित दीनदयाल उपाध्याय दिया कर था। दो साल पहले ही उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद का नाम भी बदल कर प्रयागराज कर दिया गया था। तब से ही संगम नगरी प्रयागराज के नाम से जानी जाती है।