सरदारो को बेइज्जत करने लिए एक और जेहाद, लाल सिंह चड्ढा मे एक मंद-बुद्धि ‘सरदार’ बने!- आमिर खान

ट्रेंडिंग

देश के रक्षक “सरदारो” को बेइज्जत करने लिए एक और जेहाद.. लाल सिंह चड्ढा मे आमिर खान एक मंद-बुद्धि “सरदार” बने है!

मुग़लों और जेहादियों को सरदारों द्वारा बार-बार धूल चटाने वाली घटनाओ से इतिहास भरा पड़ा है किन्तु जरा सोचिए कि इन्हे मंद-बुद्धि “सरदार” ही क्यों पसंद आया ? कोई अहमद, मोहम्मद या अब्दुल्ला नाम का व्यक्ति क्यों नहीं ?

जिस प्रकार इंदिरा  गाँधी की मृत्यु के बाद सरदारों पर संता-बंता के जोक्स बनते थे, यह आमिर खान उसी प्रकार सरदारों को बदनाम करना चाहते है..इस बॉलीवुड गैंग का बस एक ही इलाज है.. पूर्ण बहिष्कार!