【LIVE VIDEO】 सुशांत सिंह हत्याकांड: ड्रग्स कांड छुपाने में जुटा बॉलीवुड नही तो,आधा बॉलीवुड ….

ट्रेंडिंग

सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या मामले में एक नया मोड़ आया है। इस मामले में सामने आए व्हाट्सप्प चैट से बड़ा खुलासा हुआ है। रिया चक्रवर्ती के व्हाट्सप्प चैट के सामने आने के बाद अब इस मामले में ड्रग्स एंगल आ रहा है, जिसके आरोप भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी भी लगा चुके हैं। रिया चक्रवर्ती के ‘रिट्रीव चैट्स’ के हवाले से ये खुलासा हुआ है, जिसे अभिनेत्री ने डिलीट कर दिया था।

‘टाइम्स नाउ’ की खबर के अनुसार, ये चैट रिया चक्रवर्ती और गौरव आर्या के बीच का है। बताया गया है कि गौरव एक ड्रग डीलर है, जो इस कारोबार में कई सालों से लगा हुआ है। मार्च 8, 2020 को भेजे गए मैसेज में रिया ने लिखा था कि अगर हम हार्ड ड्रग्‍स की बात करें तो मैंने ज्‍यादा ड्रग्‍स का इस्‍तेमाल नहीं किया है। वहीं दूसरी चैट में रिया ड्रग डीलर गौरव से पूछ रही हैं कि क्या उसके पास MD है?

बता दें कि MDMA को शॉर्ट फॉर्म में MD कहा जाता है। इसका आशय Methylenedioxymethamphetamine से है, जिसे काफी स्ट्रॉन्ग ड्रग माना जाता है। इसके अलावा नवम्बर 25, 2019 की एक और चैट का खुलासा हुआ है, जिसमें रिया ने जया साहा से कहा है कि उन्होंने श्रुति से कोऑर्डिनेट करने को कहा है। इसके बाद रिया ने जया को धन्यवाद भी कहा था। जया ने जवाब दिया था कि कोई समस्या नहीं है, ये मददगार साबित होगा।

सबसे ज्यादा चौंकाने वाला चैट पाँचवाँ है, जिसमें रिया चक्रवर्ती से जया ने कहा, “चाय, कॉफी या पानी में 4 बूंदें डालो और उसे पीने दो। असर देखने के लिए 30 से 40 मिनट रुको।” अप्रैल 2020 में एक अन्य चैट में मिरांडा ने जया से कहा कि ‘स्टफ’ लगभग ख़त्म हो चुका है। अप्रैल 2020 की ही एक चैट में शौविक से Hash और Bud लेने की बात हो रही है, जो लोअर लेवल का ड्रग्स है।

दूसरी तरफ गौरव ने ड्रग्स से जुड़े होने की बात नकार दी है। रिया के वकील ने तो यहाँ तक कहा कि उनकी क्लाइंट ब्लड टेस्ट के लिए भी तैयार है, जिसके बाद ये साबित हो जाएगा कि वो ड्रग्स नहीं लेती हैं। इधर सुशांत की दोस्त स्मिता पारीख ने भी सिद्धार्थ पिठानी को लेकर खुलासा किया है। बकौल स्मिता, जब उन्होंने सिद्धार्थ से पूछा कि 14 जून को सुशांत को फाँसी के फंदे पर देखा तो रिया को कॉल क्यों नहीं किया, तो जवाब में उन्होंने कहा कि वो भूल गए थे।

सिद्धार्थ ने बताया कि उसके दिमाग में सुशांत की बहन नीतू का नाम आया और उसने उन्हें ही सबसे पहले कॉल किया, जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। स्मिता ने आरोप लगाया कि वो रिया को बचाने की कोशिश कर रहा है, क्योंकि एक फ्लैट में सब साथ रह रहे थे और उसे रिया को कॉल करने का ख्याल नहीं आया। स्मिता ने कहा कि उसे सिद्धार्थ और रिया ने एक साथ ही कॉल किया था और सिद्धार्थ मुंबई पुलिस की जाँच से खुश भी था।

स्मिता ने संदीप सिंह से पूछताछ की माँग करते हुए कहा कि परिवार भी यही चाहता है क्योंकि उसने 14 जून को जल्दबाजी में सबूत मिटाने की कोशिश की थी। सारी प्रक्रिया उसने ही पूरी कराई थी और सभी को निर्देश दे रहा था। वहीं 17 अप्रैल के एक अन्य चैट से भी चीजें रहस्यमयी हो रही हैं, जिसमें रिया ने मिरांडा को लिखा था कि माल ख़त्म हो चुका है। अब नारकोटिक्स ब्यूरो भी इस मामले की जाँच कर रहा है।

ये भी पता चला है कि संदीप सिह ने एंबुलेस के ड्राइवर को कॉल किया था। संदीप ने 14 जून को 3 बार और 16 जून को एक बार ड्राइवर को कॉल किया था। कुल मिलाकर संदीप और एंबुलेंस ड्राइवर के बीच 4 बार बात हुई थी। एंबुलेंस ड्राइवर से जब इस बारे में पूछा गया तो उसने कुछ भी बोलने से मना कर दिया है। कॉल डिटेल से यह भी खुलासा हुआ है कि संदीप सिंह द्वारा कॉन्ग्रेस नेता संजय निरुपम और अभिनेता सूरज पंचोली की माँ जरीना वहाब को भी कॉल किए गए थे।

सुशांत सिंह राजपूत मामले में CBI ने मुंबई पुलिस के जाँच अधिकारी और सब इंस्पेक्टर को भेजा समन

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में CBI ने मुंबई पुलिस के जाँच अधिकारी भूषण बेलनेकर और एक सब इंस्पेक्टर को समन भेजा है। बेलनेकर सुशांत मामले की जाँच कर रहे थे। केंद्रीय जाँच एजेंसी ने पिछले दिनों जाँच अधिकारी का बयान लिया था। अब उन्हें पूछताछ के लिए समन भेजा है।

वहीं, दूसरी ओर सुशांत के चार्टर्ड अकाउंटैंट संदीप श्रीधर, सुशांत के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी, रसोइए नीरज, रजत मेवाती और केशव समेत सीबीआइ 6 लोगों से डीआरडीओ गेस्ट हाउस में पूछताछ की गई। इसी गेस्टहाउस में सुशांत के केस की जाँच कर रही सीबीआई की टीम ठहरी हुई है। माना जा रहा है अब सीबीआइ रिया चक्रवर्ती को कभी भी पूछताछ के लिए बुला सकती है।

गौरतलब है कि सुशांत 14 जून को अपने बेडरूम में मृत पाए गए थे। उस दिन कुल 4 लोग घर में थे। उनमें से घर के नौकर नीरज सिंह को आज लगातार पाँचवे दिन DRDO गेस्ट हाउस लाया गया। नीरज सुशांत को फंदे से लटकते हुए देखने वालो में से एक है। क्रिएटिव आर्ट डिजायनर सिद्धार्थ पीठानी से भी लगातार पूछताछ हो रही है। सिद्धार्थ ने ही दरवाजा नहीं खुलने पर चाबी वाले को बुलाया था। लॉक तोड़ने के बाद चाबी वाले को बेडरूम में जाने नहीं दिया था।

सुशांत को पंखे से बंधे फंदे पर लटकते देख सुशान्त की बहन मीतू सिंह को फोन पर बताया और फिर मीतू सिंह के कहने पर सुशांत सिंह राजपूत का शव नीचे उतारा था। हाउस कीपर दीपेश सावंत भी उस दिन सुशान्त कमरे में सिद्धार्थ के साथ गया था और  सुशान्त का शव उतारने में मदद की थी। कुक केशव ने सुबह सुशांत को केला ,जूस और नारियल पानी देने का दावा किया था।

सोमवार को, सीबीआई की टीम मुंबई स्थित रिजॉर्ट का दौरा किया, जहाँ राजपूत ने कुछ महीने बिताए थे। सीबीआई अधिकारियों ने शुक्रवार को पिठानी और नीरज के बयानों को दर्ज किया था। शनिवार को जाँच टीम पिठानी, नीरज और सावंत को राजपूत के फ्लैट में ले गए और वहाँ घटनाओं को सिलसिलेवार ढंग से फिर से रचा। तीनों को रविवार को फिर से फ्लैट पर ले जाया गया और सीबीआई ने डीआरडीओ गेस्ट हाउस पर उनसे फिर से पूछताछ की गई।

उल्लेखनीय है कि सुशांत सिंह को जहर देने का भी आरोप लगाया जा रहा है। भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने मामले पर ट्वीट करते हुए लिखा, “हत्यारों और उनकी शैतानी मानसिकता की पहुँच धीरे-धीरे सामने आ रही है। ऑटॉप्सी को जानबूझकर लेट किया गया, ताकि सुशांत सिंह के पेट में जहर घुल जाए।” उन्होंने यह भी कहा कि जो जिम्मेदार हैं, उन पर नकेल कसने की जरूरत है।

इसके अलावा उन्होंने संदिग्ध संदीप सिंह से भी सवाल-जवाब करने की बात कही। बता दें कि संदीप सिंह की कॉल डिटेल से खुलासा हुआ है कि उन्होंने कॉन्ग्रेस नेता संजय निरुपम और अभिनेता सूरज पंचोली की माँ जरीना वहाब को कॉल किए थे। कॉल रिकॉर्ड के अनुसार, संदीप सिंह पिछले 10 महीनों से सुशांत के साथ संपर्क में नहीं थे। सुशांत सिंह के साथ संदीप की अंतिम बार बातचीच सितंबर, 2019 में हुई थी।