ख़ुशख़बरी-भारत को मिली बड़ी सफ’लता संयु’क्त राष्ट्र सुर’क्षा परि’षद में भारत होगा स्थाई सदस्य?

Uncategorized

यूएन’एससी यानी सं’युक्त रा’ष्ट्र सुर’क्षा परि’षद में भा’रत को बड़ी सफ’लता हा’सिल हुई है! यूएनएससी के पांच स्थाई सदस्यों में से 4 सदस्यों ने भारत को स्थाई सीट देने का समर्थन किया है! राष्ट्रभाषा परिषद के पांच स्थाई सदस्यों में अ’मेरिका, रू’स, फ्रां’स, ब्रि’टेन और ची”न शामिल है! इन्हें वीटो पावर मिला हुआ है! भारत काफी समय से स्थाई सदस्यों के लिए दावेदार रहा है लेकिन ची”’न ने कई बार इसमें अ’ड़ंगा लगाया है! हालांकि ची”’न ने एक बार भारत को यूएनएससी में समर्थन देने की बात भी कही थी लेकिन मौके पर खरा नहीं उतरा!

इस बात की जानकारी विदेश मंत्री V मुरलीधरण ने संस’द में दी है! उनका कहना है कि “यूएनएससी का विस्तार होने पर भारत को स्थाई सदस्य मिलने की ज्यादा संभावना है!” हालांकि भारत के पक्ष में किन देशों ने आवाज उठाई इसके बारे में उन्होंने कुछ नहीं कहा!

उनका कहना है कि मई 2015 में भारत के प्रधानमंत्री के सीन दूरी के दौरान चीन ने भी यूएनएससी में भारत को शामिल करने का समर्थन किया था! उस दौरान जारी एक साझा बयान में कहा गया था कि चीन एक विकासशील राष्ट्र के तौर पर अंतरराष्ट्रीय मामलों में भारत के दर्जे को हम समझता है! वह UN सुरक्षा परिषद में भारत के शामिल होने का समर्थन करता है

भारत हो सकता है स्थाई सदस्य?

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कुल 15 देश है इनमें से पांच स्थाई सदस्य हैं जो कि अमेरिका, रूस, फ्रांस, ब्रिटेन और चीन है! वही बचे हुए 10 देशों को अस्थाई सदस्यता दी गई है! हर साल 5 अस्थाई सदस्य चुने जाते हैं और इनका कार्यकाल 2 साल का होता है! लेकिन फिलहाल दुनिया की मौजूदा हालात को देखते हुए यूएनएससी में स्थाई देशों की संख्या को बढ़ाने की मांग तेज हो रही है! भारत ब्राजील साउथ अफ्रीका और जापान इन में शामिल होने के लिए मजबूत दावेदार माने जा रहे हैं! UNSC अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शांति बहाल रखने और सुरक्षा कायम करने के लिए काम करता है!

अभी भारत के अस्थाई सदस्य हैं-

सं’युक्त रा’ष्ट्र सुर’क्षा परि’षद में भारत 8 जुलाई को 8 साल में आठवीं बार अस्थाई सदस्य चुना गया था! इसकी मीटिंग में संयु’क्त राष्ट्र महा’सभा के 193 देशों ने हिस्सा लिया था जिनमें से 184 देशों ने भारत का समर्थन किया था! फिलहाल भारत 2 साल के लिए यूएनएससी का अस्थाई सदस्य है!