भारत की परमाणु पनडुब्बी ड्रैगन के लिए काल, मिनटों में चीन होगा बर्बाद

ट्रेंडिंग

न्यूज डेस्क: चीन भारत को कमजोर समझने की भूल कर रहा हैं और वो बार-बार भारत को युद्ध की धमकी दे रहा हैं। लेकिन कुछ दिन पहले जापानी और अमेरिकी रिपोट में जो खुलासा हुआ हैं उससे ड्रैगन की बेचैनी बढ़ गई हैं।
एक रिपोट की मुताबिक भारतीय थल सेना खुली युद्ध में चीन को धूल चटा सकती है तो वहीं भारत के परमाणु पनडुब्बी चीन को मिनटों में बर्बाद कर सकते हैं। भारत के पास परमाणु शक्ति चालित अरिहंत वर्ग की कम से कम चार 6,000 टन वाली पनडुब्बियाँ व बैलिस्टिक मिसाइल हैं। जो किसी भी देश को धूल चटा सकती हैं। भारत इन पनडुब्बियों को अपग्रेड कर रहा है।
सीआईए की रिपोर्ट में दावा किया गया था कि रूस के नौसैना ने भारत को परमाणु प्रणोदन कार्यक्रम के लिए तकनीकी सहायता प्रदान की है। जिसके कारण भारत की ये परमाणु पनडुब्बियां और भी घातक हो गई हैं। पनडुब्बियों को परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम 12 सागरिका (के-15) मिसाइलों से युक्त किया गया हैं। इन परमाणु पनडुब्बीयों पर भारत अग्नि श्रेणी की मिसाइयों को भी तैनात कर रहा हैं। जिससे भारत की ताकत में जबरदस्त वृद्धि हुई हैं।