लद्दाख में ब्रह्मोस तैनात, चीन को बुरी मौत मारने का पूरा इन्तेजाम, एक हिमाकत और पलक झपकते चीन को मिलेगी मौत

ट्रेंडिंग

जानकारों के मुताबिक चीन सर्दियों में भारत पर हमले की तैयारी कर रहा है, चीन का मानना है की भारत पर हमला करने का ये सबसे सही समय रहेगा क्यूंकि उस समय अमेरिकी चुनाव को लेकर दुनिया भर की नजरे अमेरिका पर रहेगी पर चीन को इस बात का अंदाजा नहीं है की आज भारत कितना बदल गया है और कहीं चीन को ही लेने के देने न पड़ जाये मोदी सरकार भी चीन की सोच को समझ रही है और सरकार तथा सेना ने चीन को बुरी मौत मारने की तैयारी भी शुरू कर दी है, जानकारी सामने आई है की भारत ने सिर्फ पैदल सैनिक, टैंक और फाइटर जेट्स ही नहीं बल्कि चीन से लगने वाली सीमाओं पर मिसाइल भी तैनात कर दिए है लद्दाख में तो बड़े पैमाने पर ब्रह्मोस मिसाइलों की तैनाती की गयी है, लद्दाख के अलावा सिक्किम और अरुणांचल भी भी मिसाइलों की तैनाती की गयी है 



प्लानिंग ये है की सर्दियों में चीन ने 1962 जैसी कोई भी हरकत की तो इस बार भारत की तरफ से सिर्फ थल सेना ही नहीं बल्कि पूरी वायु सेना और मिसाइल शक्ति से जवाब दिया जायेगा चीन ने कोई भी हिमाकत की तो पास ही चीन के 2 बड़े एयर बेस है जिनमे एक कश्घर और दूसरा होतान है जो की चीनी सेना के 2 सबसे बड़े बेस है, इन दोनों पर ही ब्रह्मोस दाग दिया जायेगा, चीन की सेना कुछ समझ सकेगी उस से पहले ही इन दोनों बेसों को  उड़ा दिया जायेगा 

https://platform.twitter.com/embed/index.html?creatorScreenName=username&dnt=false&embedId=twitter-widget-0&frame=false&hideCard=false&hideThread=false&id=1310594050555224069&lang=en&origin=https%3A%2F%2Fwww.hindibuzz.info%2F2020%2F09%2Fblog-post_44.html&siteScreenName=username&theme=light&widgetsVersion=219d021%3A1598982042171&width=550px

भारत ने ब्रह्मोस को जमीन पर भी तैनात किया है इसके अलावा इनको सुखोई 30 जेट्स पर भी तैनात किया गया है, यानि सिर्फ सीमा के इलाकों में ही नहीं बल्कि चीन के अन्दर तक घुसने और घुसकर ब्रह्मोस दागने की तैयारी है भारत 1962 वाला भारत नहीं है, नेहरु ने एयर फाॅर्स का इस्तेमाल करने से ही इंकार कर दिया, मिसाइल तो उस ज़माने में थे ही नहीं, पर आज भारत अपनी पूरी एयर फाॅर्स का इस्तेमाल करेगा और ब्रह्मोस भी तैनात है