कांग्रेस नेता का ऐलान – बिलकुल नहीं हटने देंगे कृष्ण की जन्मभूमि से शाही मस्जिद, मस्जिद ही रहनी चाहिए

ट्रेंडिंग

ये पूरी दुनिया जानती है की मथुरा एक हिन्दू तीर्थ स्थल है, भगवान् कृष्ण मथुरा में ही जन्मे थे, इस्लाम और मस्जिदों का मथुरा से कोई लेना देना नहीं है, विदेशी हमलावरों ने मथुरा में मंदिरों को तोड़कर उनपर मस्जिदें बनवाई थी औरंगजेब ने मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि पर बने मंदिर को तुडवाया था, और उसी स्थान पर औरंगजेब ने एक मस्जिद बनवाई थी, ये मस्जिद आज भी मौजूद है जिसे शाही ईदगाही मस्जिद कहते है हिन्दुओ ने बगल में ही एक मंदिर बना रखा है पर मंदिर का जो असली स्थान है उसपर मस्जिद बना हुआ है, भगवान् कृष्ण का जन्म जेल के अन्दर हुआ था और वो जेल उसी स्थान पर था जिस स्थान पर आज मस्जिद है, पहले उस स्थान पर मंदिर ही था 

अब कृष्ण जन्मभूमि की मुक्ति के लिए कुछ हिन्दुओ ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है और मांग करी है की कृष्ण जन्मभूमि पर बने अवैध मस्जिद को हटाया जाये, भूमि मंदिर की है और उसे मंदिर को ही सौंप दिया जाये, ताकि उसपर फिर कृष्ण मंदिर बनाया जा सके अब इसके बाद कांग्रेस पार्टी भड़क गयी है, मथुरा से लोकसभा का चुनाव लड़ने वाले कांग्रेस नेता महेश पाठक ने हिन्दुओ की मांग को ही अवैध बता डालाकांग्रेस नेता महेश पाठक ने कहा की – मथुरा में मस्जिद ही था और मस्जिद ही रहेगा, और वो किसी भी कीमत पर मस्जिद को हटने नहीं देंगे, महेश पाठक ने कृष्ण जन्मभूमि पर कृष्ण मंदिर का विरोध किया महेश पाठक ने ये भी कहा की – जो लोग कृष्ण जन्मभूमि से मस्जिद हटाने की मांग कर रहे है वो सांप्रदायिक और बाहरी है, उन्होंने शाही ईदगाही मस्जिद को मथुरा का धरोहर भी बता दियाबता दें की इस से पहले कांग्रेस ने अयोध्या में भी राम जन्म भूमि पर बाबरी मस्जिद का समर्थन किया था, वापस बाबरी मस्जिद बने इसके लिए कांग्रेस ने अपने बड़े बड़े वकीलों को सुप्रीम कोर्ट में लगा दिया था जिनमे कांग्रेस के बड़े नेता कपिल सिब्बल भी शामिल थे, और अब कांग्रेस कृष्ण जन्म भूमि पर मस्जिद का समर्थन कर रही है