देश भर में फिर से स्कूले खोलने को लेकर अमित शाह ने किया बड़ा ऐलान

ट्रेंडिंग

जब से देश भर में लॉक डाउन हुआ है तब से ही काफी ज्यादा चीजे थी वो कई महीनो से बंद ही थी. मार्च के महीने में देश में सम्पूर्ण लॉकडाउन कर दिया गया गया था.उस वक्त देश में कुछ भी खुला हुआ नही था और सडको पर परिंदा भी पर नही हिला पा रहा था. फिर धीरे धीरे ग्रोसरी की दुकाने खुली, फिर छोटी मोटी चीजे और खुली, मॉल खुले, सलून खुले और धीरे धीरे करके मंदिर से लेकर बार आदि सब कुछ होटल वगेरह खुल गये, मगर बच्चो की सुरक्षा को देखते हुए स्कूले बंद ही रही.

15 अक्टूबर से धीरे धीरे खोले जा सकेंगे स्कूल, पेरेंट्स से चर्चा करने के बाद स्कूल करे फैसला
अमित शाह ने जो अभी अनलॉक के अगले चरण की गाइडलाइन जारी की है उसमे ऐलान किया गया है कि 15 अक्टूबर से  देश में ग्रेडेड तरीके से यानी धीमे क्रम में चालू किये जा सकते है. शिक्षा मंत्री पोखरियाल ने इस फैसले का दिल से स्वागत भी किया है और अब धीरे धीरे करके देश में क्रमबद्ध तरीके से देश में अब 15 अक्टूबर से खोले जा सकेंगे.

हालांकि जो इलाके अभी भी कंटेंटमेंट जोन बने हुए है उनमें अभी भी स्कूल खोलने की इजाजत नही रहेगी और पेरेंट्स पर अभी शुरूआती दिनों में प्रेशर नही दिया जायेगा कि बच्चो को स्कूल भेजे ही भेजे जो भी किया जाए वो आपस में आपसी समझ के आधार पर किया जाये. इसके अलावा बड़े बच्चो को ही पहले पहले बुलाया जाना है और इसके अलावा राज्य सरकार चाहे तो अपने स्तर पर ये रोक कर भी सकती है. यानी अगर 15 अक्टूबर की तारीख दी गयी है तो लगभग 1 नवम्बर तक देश के अधिकतर स्कूल शुरू हो ही जायेंगे और बच्चो को धीरे धीरे स्कूल बुलाने का काम शुरू हो जाएगा.

अभी देश में स्कूल चालू करने जरूरी भी हो गये है क्योंकि बार बार बच्चो को प्रमोट करना भी संभव नही है क्योंकि अगर ऐसा होता है तो फिर देश के शिक्षा तंत्र की क्रेडिबलिटी कमजोर हो जायेगी और काफी सारा ईको सिस्टम भी है जो इसी पर ही निर्भर करता है.