यूपी पुलिस में रहकर संविधान नहीं शरिया से चल रहा था सब इंस्पेक्टर “इंतज़ार अली”, योगी राज ने किया निलंबित, नहीं चलेगा शरिया

ट्रेंडिंग

अक्सर इस तरह की घटनाएं सामने आती है, चाहे वो पुलिस बल हो या मिलिट्री, मजहबी उन्मादी हर जगह कानून की जगह शरिया से चलने की कोशिश करते है, उन्मादियों को न रोका टोका जाये तो ये शरिया से ही चलते रहते है जबकि सैलरी लेते है ये संविधान और कानून से चलने की उत्तर प्रदेश पुलिस में रहकर सब इंस्पेक्टर “इंतज़ार अली” संविधान और कानून से नहीं बल्कि शरिया से चल रहा था, जबकि नियम है की सिर्फ सिखों को ही दाढ़ी रखने की इज़ाज़त है

सब इंस्पेक्टर “इंतज़ार अली” लगातार चेतावनी के बाद भी लम्बी दाढ़ी रख रहा था, ये शरिया वाली इस्लामी दाढ़ी रख रहा था, इसे कई बार चेतावनी दी गयी और बताया गया की पुलिस बल में इस तरह की दाढ़ी रखने की अनुमति नहीं है और नौकरी में शामिल होने से पहले ही उसे इस तरह के नियमो की जानकारी दी गयी थी इसके बाबजूद इंतज़ार अली तमाम कानून और नियम को ताक पर रखकर लम्बी दाढ़ी रख रहा था, इसे लग रहा था की इसका कुछ नहीं बिगड़ सकतायोगी राज ने अब इस इंतज़ार अली को निलंबित कर दिया है, ये उत्तर प्रदेश के बागपत में तैनात था, योगी राज ने इसे अब पुलिस बल से निलंबित कर घर भेज दिया है, ये अब अपने घर में अब अपने मजहब का जितना मन उतना पालन कर सकता है, योगी राज ने इसे निलंबित कर साफ़ सन्देश दे दिया है की प्रदेश में अभी सपा बसपा की सरकार नहीं है और इस सरकार में आपको नियम कानून का पालन करना ही होगा