30 मर्दों को जान से मा’रकर इस अंग का अचार बनाकर खा गए पति- पत्नी…….

ट्रेंडिंग

विश्व में ऐसी कई घटनाएं होती है, जो लोगों को हैरा’न कर देती है. साल 2017 में रूस से भी एक ऐसा ही मा’मला सामना आया था, जहां एक पति-पत्नी को पुलि’स ने गि’रफ्तार किया था. इस कपल को जब गिर’फ्तार किया गया था, तब उन पर एक वे’ट्रेस के साथ एक अन्य व्यक्ति को मार’ने और उसके बाद उसके मां’स को खाने का आ’रोप लगा था. वहीं बाद में जब इन दोनों ने अपने राज खोलो तो जिसने भी सुना वो है’रान रह गया. पुलि’स ने बाद में खुला’सा किया कि इस कपल ने 30 से अधिक लोगों को मा’रा था और उसके बाद उनके मां’स से अचार बनाकर उसे लोकल रेस्टोरेंट में बेचा था. इस मामले के बाद रूस के कई शहरों में सनसनी फैल गई थी.

दरअसल, रूस के क्रासनोदर शहर में पु’लिस को ग’श्त के दौ’रान एक मोबाइल फोन मिला था.

पुलि’स ने जब फोन चेक किया तो उन्होंने देखा कि उसमें उन्होंने एक फोटो देखी जिसमें एक आदमी मानव शरीर के साथ सेल्फी ले रहा था. इसके बाद पुलि’स ने इस व्यक्ति की तलाश शुरू की और बाद में वो इस कपल तक पहुंचने में सफल हुई. पुलि’स ने जब इस कपल के घर की तलाशी ली तो उसके होश उड़ गए थे.

इस कपल के घर से पु’लिस ने आठ लोगों के शरीर के अंग बरामद किए इतना ही पु’लिस को इनके घर में एक तहखाना भी मिला था, जिसमें से पुलि’स ने 19 लोगों की खाल बरामद की थी. पु’लिस को इनके घर से एक अचार का जार भी बरामद हुआ था. बाद में खुलासा हुआ कि वो इंसानी मां’स का बना हुआ अचार था. उबले हुए मां’स के साथ कई डिब्बे उनकी रसोई में पाए गए थे. इस दौरान पु’लिस को उनके घर से कई मोबाइल फोन बरामद हुए थे. इतना ही नहीं पु’लिस को एक मोबाइल फोन से एक वीडियो भी मिला था, जिसमें इस कपल ने बताया था कि इंसान का मां’स कैसे पकाया जाता है.

उस दौरान कई मीडिया रिपोर्ट में इस बात का दावा किया था कि इस कपल ने अपना आखिरी शि’कार एक वेट्रेस को बनाया था, जिसे उन्होंने एक डेटिंग ऐप के जरिए उसे बुलाया था. कुछ मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि वेट्रेस की उम्र 35 साल की थी और उसका नाम एलेना वशुर्शेवा था. वेट्रेस वशुर्शेवा 35 साल के दिमित्री बाकेशेव को लुभाने की कोशिश करती थी और दिमित्री की 42 साल की पत्नी नतालिया को यह बिल्कुल भी पंसद नहीं थी और इस वजह से उन्होंने इसकी ह’त्या कर दी थी.

जब इन लोगों को पु’लिस ने पकड़ा था तो पु’लिस का कोई अधिकारी उस दौ’रान मी’डिया से बात नहीं करता था, क्योंकि सबको उनकी नौकरी जाने का डर था. बताया जाता है कि पु’लिस पूछताछ के दौ’रान इस कपल ने कबूल किया था कि उन्होंने सबसे पहला शि’कार साल 1999 में बनाया था और उसके बाद से वो ऐसा करने लगे थे. पु’लिस पूछताछ के दौरान इस कपल के करीब 30 लोगों की तस्वीरों को देखने के बाद दावा किया कि उन्होंने उन सब को मा’रकर खा लिया था.