केजरीवाल का आदेश – चाहे हो हमला या छेड़खानी, कोई डाक्टर-नर्स नहीं करेगा शिकायत, वरना उसपर पर होगी कार्यवाही

ट्रेंडिंग
CopyAMP code

दिल्ली में केजरीवाल सरकार के अंतर्गत आने वाले डाक्टरों, नर्सों, मेडिकल स्टाफ के लिए अरविन्द केजरीवाल ने आदेश जारी किया है, ये आदेश है की कोई भी डाक्टर, नर्स या मेडिकल स्टाफ का कोई भी कर्मचारी अपनी किसी भी शिकायत को मीडिया या सोशल मीडिया पर नहीं कहेगा



आदेश में ये भी कहा गया है की अगर डाक्टरों, नर्सों और मेडिकल स्टाफ में किसी ने अपनी कोई भी शिकायत मीडिया या सोशल मीडिया में कही तो फिर उसके खिलाफ दिल्ली सरकार सख्त कार्यवाही करेगी यानि अब डाक्टरों पर कोई हमला हो, डाक्टरों और मेडिकल स्टाफ पर कोई थूके, कोई अस्पतालों में आतंक, पेशाब, शौच फैलाए, नर्सों को छेड़े, नर्सों के कपडे फाड़े, मेडिकल स्टाफ को मारे तो इसके बारे में डाक्टरों नर्सों मेडिकल स्टाफ को दिर्फ़ दिल्ली सरकार को बताना है, कोई भी सोशल मीडिया पर शिकायत नहीं लिख सकता और न ही मीडिया में कोई शिकायत बता सकता है केजरीवाल सरकार ने इस आदेश को बड़े गुपचुप तरीके से जारी किया जिसका खुलासा कपिल मिश्रा ने किया है Kapil Mishra@KapilMishra_IND

CopyAMP code

केजरीवाल सरकार का आर्डर –

कोई डॉक्टर , नर्स या कर्मचारी अपनी प्रॉब्लम ट्विटर, व्हाट्सएप, फेसबुक में नहीं शेयर करेगा

मीडिया को बताने पर भी प्रतिबंध

खाना , मास्क न, एकोमोडेशन – कुछ न मिले, चुप रहो

ये आर्डर इसलिए क्योंकि सोशल मीडिया पर सरकार के सारे झूठ की पोल खुल रही हैं

View image on Twitter

20.1KTwitter Ads info and privacy11.2K people are talking about thisये आदेश केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में अपने अंतर्गत आने वाले अस्पतालों को भेजा है, किसी भी तरह की शिकायत, चाहे किसी चीज की कमी हो, किसी चीज से समस्या आ रही हो, मारपीट हो रही हो, छेड़खानी हो रही हो, सब पर चुप रहना है 
बता दें की दिल्ली के अस्पतालों में उन्मादी जमात के उन्मादियों ने कई तरह का आतंक मचाया था जिसके बाद मीडिया और सोशल मीडिया पर उन्मादियों के खलाफ लोगो ने प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दी थी, पर अब केजरीवाल सरकार ने आदेश जारी कर डाक्टरों, नर्सों और मेडिकल स्टाफ को चुप रहने का हुक्म दिया है 

14,980 thoughts on “केजरीवाल का आदेश – चाहे हो हमला या छेड़खानी, कोई डाक्टर-नर्स नहीं करेगा शिकायत, वरना उसपर पर होगी कार्यवाही