हाथरस केस: राहुल गांधी को गिराने पर संजय राउत ने दी प्रतिक्रिया, दिया ऐसा बयान

ट्रेंडिंग
CopyAMP code

अभी हाल ही में हाथरस में जो कुछ भी हुआ है उसने बहुत से लोगो को परेशान भी किया है और कई लोगो पर सवाल भी खड़े किये है कि क्या वो वाकई में मदद करना चाह रहे थे या फिर सिर्फ उनका राजनीति करने का ही मकसद था. सवाल तो कई सारे होते ही है और इन सवालों का जवाब देने के लिए योगी सरकार कार्यवाही कर रही है. इसी बीच राहुल हाथरस जा रहे थे जहाँ पर पुलिस ने उनको रोका और फिर वो इस दौरान गिर भी गये थे जिस पर काफी बवाल भी खड़ा हुआ.

CopyAMP code

संजय राउत ने दिया बयान, बोले वो इंदिरा गांधी के पोते और राजीव गांधी के बेटे है ये नही भूलना चाहिये
अब इस पूरे घटनाक्रम पर शिवसेना खुलकर के सामने आयी है और एक तरह से राहुल गांधी के समर्थन में ही आयी है जहाँ पर संजय राउत ने बयान जारी करते हुए कहा कि भले ही कांग्रेस से हमारा कोई मतभेद हो सकता है लेकिन वो एक राष्ट्रीय नेता है और राष्ट्रीय नेता अगर किसी परिवार से मिलने जा रहा है तो मैं मानता हूँ कि क़ानून की स्थिति थी और 144 लगी हुई थी तो रोका गया.

मगर जिस तरह से राहुल गांधी के साथ में बर्ताव किया गया वहाँ की पुलिस के द्वारा उसे देश में कोई भी समर्थन नही दे सकता है. हमें नही भूलना चाहिए कि राहुल गांधी इंदिरा गांधी के पोते है और राजीव गांधी के बेटे है जिन्होंने देश के लिए अपनी जान दी है. आप राहुल की राजनीतिक रूप से आलोचना कर सकते है मगर कोई राष्ट्रीय नेता अगर किसी पीड़ित के परिजनों से मिलने जाता है तो उसका कालर पकड़ा जाता है, उसे धक्का दिया जाता है ये लोकतांत्रिक नही है.

वही दूसरी तरफ यूपी सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह कहते है कि यूपी जैसी ही घटना राजस्थान में हुई थी मगर कांग्रेस पार्टी हाथरस घटना पर राजनीति कर रही है. दोनों ही भाई बहन को हाथरस से पहले राजस्थान जाना चाहिए.