अर्नब के लिए एक और बुरी खबर, कोर्ट ने सुनवाई में दिया ये फैसला

ट्रेंडिंग

अर्नब गोस्वामी के लिए पिछले एक से दो दिन बहुत ही बुरे बीते है और जिस तरह से उनके लिए लगातार मुसीबत पर मुसीबत खड़ी हो रही है वो उनके समर्थको को काफी ज्यादा निराश भी कर रही है क्योंकि किसी ने ये उम्मीद नही की थी कि यूँ अचानक से अर्नब को अरेस्ट किया जाएगा और फिर उनके लिए बाहर आ पाना इतना मुश्किल हो जाएगा. मुंबई पुलिस ने अर्नब को सुबह सुबह उनके ही निवास स्थल से गिरफ्तार किया और अपने साथ में ले गयी जिसके बाद में उनको कोर्ट में पेश भी कर दिया गया.

कोर्ट ने अर्नब की 14 दिन की न्यायिक हिरासत को मंजूरी दी, अर्नब के लिए मुश्किलें बढ़ी
अर्नब को यूँ अचानक से हिरासत में लेने के बाद में देर शाम को उन्हें पुलिस ने कोर्ट के सामने पेश किया जिसके बाद में कोर्ट ने अर्नब की 14 दिन की न्यायिक हिरासत को मंजूरी दे दी है. यानी अब अर्नब गोस्वामी को 14 दिन के लिए पुलिस की हिरासत में रहना होगा और उनके सवालो के जवाब देने होंगे. इस घटना के बाद में अर्नब के समर्थक काफी अधिक हैरान है.

अब सवाल ये है कि ऐसा क्यों हुआ? तो इस पर लीगल एक्सपर्ट्स कहते है कि अर्नब के साथ में यहाँ पर कही न कही एक चीज गलत हुई है. उनके साथ में जो भी हुआ है वो अलग बिना किसी सिस्टेमेटिक तरीके से हुआ है. न कोई समन न कोई पहले सूचना और न ही उन्हें तैयारी करने का मौक़ा तक न देना. अगर अर्नब को पहले से इनकी जानकारी होती तो शायद वो कोर्ट के सामने बेहतर तरीके से अपनी बात और अपना पक्ष रख पाते लेकिन महज कुछ घंटो के भीतर इतना कुछ हुआ और इसमें वो खुद तो हिरासत में ही थे तो किस चीज को कैसे टेकल किया जाए ये समझ पाना ही मुश्किल था.

इसका परिणाम ये हुआ कि अब अर्नब को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में रहना पड़ेगा. हालांकि संभव है कि वो उपरी अदालत में इसके खिलाफ जाए और इस फैसले के खिलाफ अपील भी करे.