पीएम मोदी की नीति से भारत को मिलेगा वीटो पावर, पढ़ें एक रिपोर्ट?

ट्रेंडिंग

न्यूज डेस्क: आज के वर्तमान समय में पीएम मोदी की नीति पूरी दुनिया को पसंद आ रही हैं। जिसके कारण ऐसी सम्भावना दिखाई देने लगी है की भारत को संयुक्त राष्ट्र में वीटो पावर मिल सकता हैं। इसको लेकर भारत ने भी अपनी दावेदारी पेश कर दी हैं।

क्या है वीटो पावर:

स्थायी सदस्यों के फैसले से अगर कोई सदस्य सहमत नहीं है तो वह वीटो पावर का इस्तेमाल करके उस फैसले को रोक सकता है। मौजूदा समय में यूएन सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी सदस्यों चीन, फ्रांस,रूस, यूके और अमेरिका के पास वीटो पावर है।

एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक भारत के कई प्र्धानमंत्रियों ने भारत को वीटो पावर दिलाने के लिए पहल की हैं। लेकिन अभी तक किसी को इसमें सफलता हासिल नहीं हुई हैं। लेकिन आज के समय में पीएम मोदी की विदेश नीति सिर चढ़ कर बोल रही हैं। दुनिया के कई देश भारत को वीटो पावर दिलाने का समर्थन कर रहे हैं। ऐसे में भारत की स्थिति मजबूत नजर आ रही हैं।

चीन को छोड़कर अमेरिका, फ़्रांस और रूस ने भारत को कई बार वीटो पावर दिलाने का समर्थन किया हैं। लेकिन सबसे बड़ा सवाल अभी तक  बना हुआ है की क्या पीएम मोदी भारत को संयुक्त राष्ट्र में वीटो पावर दिलाने में सफलता हासिल कर पाएंगे।