‘महिलाओं का भौंहें सँवारना इस्लाम में हराम’: मौलवी की धमकी पर बिकनी की तस्वीर भेज कर लिखा- ‘मेरे…….

ट्रेंडिंग
CopyAMP code

ब्रिटेन में सायरा खान एक जाना-पहचाना नाम है, क्योंकि उन्होंने ITV पर आने वाले लंचटाइम टॉक शो ‘Loose Women’ का लम्बे समय तक संचालन किया है, जिसमें मनोरंजन व अन्य क्षेत्रों की महिलाएँ महिलाओं के परिप्रेक्ष्य में चर्चा करती हैं। अब सायरा खान ने शो को अलविदा कह दिया है, उन्होंने अपने जीवन के कुछ बुरे अनुभवों को लेकर बात की है। 50 साल की मीडिया प्रेजेंटर अब अन्य प्रोजेक्ट्स पर फोकस करेंगी। कभी उन्होंने इस्लाम में भौहें सँवारने को हराम बताने वाले एक मौलवी को सबक सिखाने के लिए बिकनी में तस्वीर भेज दी थी।

CopyAMP code

उन्होंने खुलासा किया है कि जब वो मात्र 13 साल की ही थीं, तभी उनके ही परिवार के एक सदस्य ने उनका यौन शोषण किया था। उन्होंने बताया कि उस व्यक्ति ने उनके बेडरूम में आकर उनका यौन शोषण किया। फिलहाल वो मर चुका है। उन्होंने कहा कि अगर किसी महिला को कोई व्यक्ति बिना अनुमति छूता है या कोई गलत कार्य करता है, तो ये किसी भी धर्म या संस्कृति में स्वीकार्य नहीं है – इस बारे में बात की जानी चाहिए।

उन्होंने बताया कि वो कट्टरपंथियों से इतनी डर गई थीं कि उनके पति ने उनसे चुप करने की ‘भीख माँगी’ थी और वो काफी डरे हुए थे। इसी तरह उन्होंने शो के एक एपिसोड में बताया था कि उन्होंने एक बिकनी तस्वीर अपलोड कर के एक मौलवी को महिलाओं के अधिकार के बारे में संदेश दिया था, जिसके बाद उन्हें जान से मार डालने की धमकियाँ मिलीं। उक्त मौलवी ने फतवा जारी किया था कि इस्लाम में महिलाओं का भौंहों को सँवारना हराम है।

उक्त मौलवी का कहना था कि भौंहों के साथ कुछ भी छेड़छाड़ करना इस्लाम में महिलाओं के लिए हराम है। इसके बाद सायरा खान ने बिकनी में अपनी तस्वीर भेजी, जिसमें वो पेट के बल लेटी हुई थीं। उन्होंने ‘Peach’ नामक फल की इमोजी भेजी और मौलवी को लिखा – “ऐ पिछड़े प्रागैतिहासिक डायनासोर, मेरे  (Peach Emoji) को किस कर लो।” इसके बाद एक इंस्टाग्राम यूजर ने उन्हें धमकाया था कि अगर वो अपने जीवन का महत्व समझती हैं तो इस्लाम को इन सबसे दूर रखें।

उन्होंने ऑन एयर इस बात को कहा था कि हत्या की धमकियाँ उन्हें न तो मुस्लिम होने से रोक सकती हैं और न ही बिकनी पहनने से। उनके पति भी डर गए थे और उनसे दो बच्चों की खातिर ये सब बंद करने को कहा था लेकिन सायरा खान ने कहा कि वो बिकनी भी पहनेंगी और भौंहों को भी सँवारेंगी। उनका कहना है कि मजहब के नाम पर लोगों की हत्या गलत है। क्रिसमस से पहले उन्होंने आँसुओं के साथ ‘Loose Women’ शो को अलविदा कहा।

इसी तरह शनिवार (जनवरी 2, 2021) को पेटलिंग जाया शहर में इस्लामी कट्टरपंथियों के विरोध के बावजूद ‘मिस प्लस वर्ल्ड मलेशिया 2020 (MPWM 2020)’ कार्यक्रम का आयोजन हुआ। कट्टरपंथी संगठनों और यहाँ तक कि मलेशिया की सरकार ने भी प्लस साइज महिलाओं के कार्यक्रम में आने को इस्लाम के खिलाफ बताया था। इस्लामी संगठनों ने इस कार्यक्रम को ‘भोगवादी’ करार दिया था, लेकिन कार्यक्रम तय समयानुसार हुआ।