कोरोना वै’क्सीन पर सियासत करना लालू के लाल को पड़ी महँगी, लोगों ने…..

ट्रेंडिंग

Corona Vaccine: एक ओर जहां आ बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने कोरोना वैक्सीन को लेकर बयानबाजी की है।

नई दिल्ली। एक ओर जहां कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) को लेकर बिहार में दूसरी बार ड्राई रन चल रहा है वहीं इसे लेकर तरह-तरह के बयान’बाजी का दौर भी जारी है। इसी कड़ी में अब बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने कोरोना वै’क्सीन को लेकर बयान’बाजी की है। दरअसल तेजप्रताप यादव ने पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को वैक्सीन लगवाने की मांग की है। लेकिन कोरोना वै’क्सीन पर सियासत करना लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज को महंगा पड़ा गया। आपको बता दें कि इससे पहले सपा प्रमुख अखि’लेश यादव, कांग्रेस नेता शशि थरूर और जयराम रमेश ने भी कोरोना वै’क्सीन को लेकर बेतुका बयान दे चुके है।

Covaxin and covishield

कोरोना वैक्सीन लगवाने को लेकर सवाल पूछे जाने पर आरजेडी नेता तेज’प्रताप यादव ने कहा कि ‘पहले मोदी जी टीका लगवा लें फिर हम भी लगवा लेंगे।

लोगों के निशाने पर आए तेजप्र’ताप यादव 

वहीं कोरोना वै’क्सीन पर राज’नीति करने वाले तेज’प्रताप यादव की लोगों की जमकर खिचाई कर डाली। एक यूजर ने तेज’प्रताप पर तंज कसते हुए लिखा, बैल बु’द्धि वै’क्सीन देश की जनता के खातिर है ना कि किसी नेता के लिए मोदी लग’वाए या ना लगवाए पर’न्तु किसी भी राजनेता को वै’क्सीन नहीं लगानी चाहिए।

बता दें कि हाल ही में दवा निया’मक ड्र’ग्स कंट्रो’लर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने भारत में बनी स्वदेशी कोरोना वैक्सी’न (Corona Vaccine) की मंजूरी दे दी है। डीसीजी’आई ने भारत बायोटेक की कोवै’क्सीन (Covaxin) और सीरम इंस्टी’ट्यूट की को’विशील्ड (COVISHIELD) को आपात प्रयोग की मंजूरी दी है।

इससे पहले अखिलेश यादव ने कहा था कि ये वैक्सीन बीजेपी की है और इसे मैं नहीं लग’वाऊंगा, क्योंकि मुझे बीजेपी पर भरोसा नहीं है। इसके अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने भी वैक्सीन पर सवाल उठाए थे और कहा था, ‘कोवै’क्सीन ने अभी तीसरे फेज का ट्राय’ल भी पूरा नहीं किया है. वक्त से पहले मंजूरी जोखिम भरा हो सकता है। स्वा’स्थ्य मंत्रा’लय को स्थिति साफ करनी चाहिए। ट्रायल से पहले वैक्सी’न के इस्ते’माल पर रोक लगे।’

वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री जयराम रमेश (Jairam Ramesh) ने भी वै’क्सीन की मंजूरी पर सवाल उठाया है। कोवै’क्सीन पर सवाल उठाते हुए रमेश ने स्वा’स्थ्य मंत्री से पूछा कि भारत बायो’टेक की कोवै’क्सीन को मंजूरी देने के लिए सरकार ने क्यों अंतररा’ष्ट्रीय मानकों को नजर’अंदाज किया। सरकार की तरफ से इस बात का स्पष्टी’करण देना जरूरी है।