छात्राओं के ड्रेस में हाथ डालकर करता था गंदा काम, मना करने पर….देखें तस्वीर👇

ट्रेंडिंग
CopyAMP code

यौ’न शो’षण का एक बेहद गंभीर और चौंका देने वाला माम’ला सामने आया है। दरअसल, एक गैर-सरकारी संगठन (एनजीओ) के निदेशक को यौ’न शो’षण के आ’रोप में गिर’फ्ता’र किया गया है।

CopyAMP code

एनजीओ के नि’देशक पर आ’रोप है कि वह नर्सिंग की छात्राओं के सब्र की परीक्षा लेने के लिए उनका यौ’न शो’षण करता था। मा’मला झारखंड से सामने आया है।

यौ’न शोष’ण का आ’रोप

बता दें एनजीओ की ओर से राज्य के खूंटी जिले में चलाए जाने वाले नर्सिंग इंस्टिट्यूट की कई छात्राओं ने निदे’शक पर यौ’न शो’षण का आ’रोप लगाया था।

पी’ड़ित लड़कियों ने बताया कि इंस्टिट्यूट के डायरेक्टर बबलू उर्फ पर’वेज आ’ल’म छात्राओं के सब्र की परीक्षा लेने की बात कहकर उन्हें पकड़ लेता था और अपने हाथ उनके कपड़ों में डालता था।

बेश’र्मी की हदें पार करता था निदेशक

जानकारी मिली है कि आरो’पी पर’वेज आ’लम पिछले काफी समय से नर्सिंग छात्राओं को अपना शिकार बनाता आ रहा है।

कुछ छात्राओं ने एक सामाजिक कार्यकर्ता को पर’वेज की बेश’र्मी की कहानी बताई थी, जिसके बाद इस मा’मले का खुला’सा हो सका।

छात्राओं की शि’कायत के आधार पर सोश’ल ऐक्टिविस्ट लक्ष्मी बखला ने इस संबंध में राज्यपाल को एक पत्र भी लिखा।

निदेशक हुआ गि’रफ्तार

इसके बाद ब्लॉक डेवलेपमेंट ऑफिसर (बीडीओ) के अधीन जां’च शुरू की गई और स्थानीय महिला थाने की एक टीम को भी इंस्टिट्यूट भेजा गया।

जांच टीम ने अपनी रि’पोर्ट खूंटी एसपी आशुतोष शेखर को भेज दी है और एनजीओ के डायरेक्टर को गि’रफ्ता’र कर लिया गया है।