अभी अभीः कहर बनकर टूटा , भीषण बमबारी, भारी तबाही, 188 के उडे चिथडे

ट्रेंडिंग
CopyAMP code

गाजा। इजरायल-फलस्तीन के बीच घमासान लड़ाई को सबसे ज्यादा गाजा शहर भुगत रहा है। फिलहाल दोनों ही पक्ष इस लड़ाई की कीमत चुका रहे हैं, लेकिन सबसे ज्यादा नुकसान फलस्तीन का शहर गाजा चुका रहा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इजराइली लड़ाकू विमानों ने सोमवार को गाजा सिटी में कई जगहों पर भीषण बमबारी की। यह बमबारी करीब 10 मिनट तक चलती रही, जिसमें गाजा शहर का उत्तर से दक्षिण तक का सारा इलाका थर्रा उठा। यहां इजराइल में बड़ी संख्‍या में बम गिराए गए। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इजराइल का यह हमला 24 घंटे पहले हुए हवाई हमले से ज्‍यादा भीषण थी, जिसमें 42 फलस्तीनियों की मौत हो गई थी।

CopyAMP code

ताजा हमले में मरने वालों की सूचना नहीं

सोमवार को हुए ताजा हमले में कितने लोगों की जान गई, इस बारे में अभी कोई आधिकारिक सूचना नहीं है। गाजा के पश्चिम में मुख्य तटीय सड़क पर सुरक्षा परिसर और खुले स्थान सोमवार को सुबह हुए इस हमले में निशाना बने। दक्षिणी गाजा सिटी के बड़े हिस्सों को बिजली पहुंचाने वाले एकमात्र संयंत्र की एक बिजली की लाइन क्षतिग्रस्त हो गई है। गौरतलब है कि इजराइल के हवाई हमलों में अभी तक 188 लोगों की मौत हो चुकी है। आपको बता दें कि 10 मई को तनाव शुरू होने के बाद से 188 फलस्तीनी मारे गए हैं, जिनमें कई बच्चे और महिलाएं भी शामिल हैं। इन हमलों में 1500 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं।

इधर इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने गाजा में मौजूद चरमपंथी समूह हमास के खिलाफ चौथे युद्ध के जोर पकड़ने का संकेत दे चुके हैं। रविवार को टेलीविजन पर प्रसारित अपने संबोधन में नेतन्याहू ने साफ शब्दों में कहा कि इजराइल पूरी ताकत से हमला जारी रखे हुए है, जो कुछ समय तक आगे भी जारी रहेगा। नेतन्याहू ने कहा कि फलस्तीन के आतंकी संगठन हमास को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। वहीं हमास ने भी अपनी जवाबी कार्रवाई जारी रखी हुई है। इजराइली आपात सेवा ने बताया कि हमास ने भी इजराइल में असैन्य इलाकों की ओर रॉकेट दागे। इजराइली सेना ने कहा कि हमले में हमास के भूमिगत सैन्य ढांचों को निशाना बनाया गया। इजराइली सेना ने कहा है कि सोमवार को हुई एयरस्‍ट्राइक में 15 किलोमीटर में फैली आतंकियों की सुरंगों को ध्‍वस्‍त कर दिया गया है।