लॉकडाउन के दौरान मौनी रॉय ने शेयर की अपनी आपबीती, कहा- ‘आधी रात होटल के कमरे में…’

ट्रेंडिंग

आपसब जानते हैं मौनी रॉय ने काफी कम समय में लोगों के दिलों में अपनी जगह बना लिया था. आपको बता दें मौनी को सबसे ज्यादा उनके टीवी धारावाहिक नागिन से जाना जाने लगा. नागिन में मौनी को एक अलग पहचान मिली. लोगों के बीच वो काफी ज्यादा लोकप्रिय हो गयी. इसी बीच मौनी को फिल्मों के भी ऑफर मिले. हालाँकि फिलहाल उनकी ज्यादा फ़िल्में नहीं है. अभी देश में लॉकडाउन की स्तिथि हैं. ऐसे में हमारे पसंदीदा एक्ट्रेस घरों में कैद अपने जीवन से जुड़े अनकहे किस्से बताते हैं.

लेकिन सेलिब्रिटीज़ के लिए कई बार यह लोकप्रियता सिर दर्द बन जाती है। कुछ फैंस हद पार कर जाते हैं और उन्हें फैंस कहना ठीक नहीं है क्योंकि फैंस कभी भी अपने प्रिय कलाकार का अहित नहीं करते.हाल ही में एक इंटरव्यू में मौनी ने ऐसी घटना जिक्र किया है जो उनकी नजर में बहुत भयावह है। उसके बाद उन्होंने छोटे शहरों में जाना ही बंद कर दिया.बात तब की जब है नागिन का सीज़न 2 चल रहा था। एक कार्यक्रम के सिलसिले में उन्हें एक छोटे शहर में जाना पड़ा।होटल से ऑडिटोरियम तक के रास्ते में जबरदस्त भीड़ थी और उसे नियंत्रित करना मुश्किल हो रहा था। सभी मौनी के लिए बेताब थे.

होटल में वापसी के समय भी यही नजारा था। मौनी की कार छोटी-छोटी गलियों से गुजर रही थी और लोग बेकाबू हो रहे थे। यह देख मौनी बहुत डर गई थीं।होटल पहुंचने के बाद मौनी ने अपनी मैनेजर से कहा कि वह उसके कमरे में ही रात में सोए। आधी रात को मौनी तब घबरा गईं जब उनके कमरे का दरवाजा खोलने की कोशिश की जा रही थी।मौनी और उनकी मैनेजर दोनों जोर से चीखे। तुरंत होटल स्टाफ को बुलवाया। मौनी का तो बुरा हाल था। इस घटना से उन्होंने यह सबक लिया कि कभी भी छोटे शहरों में नहीं जाना चाहिए।

1 thought on “लॉकडाउन के दौरान मौनी रॉय ने शेयर की अपनी आपबीती, कहा- ‘आधी रात होटल के कमरे में…’

  1. Taxi moto line
    128 Rue la Boétie
    75008 Paris
    +33 6 51 612 712  

    Taxi moto paris

    Thanks , I’ve recently been looking for information about this
    topic for a long time and yours is the greatest I have discovered so far.
    However, what in regards to the conclusion? Are you
    sure concerning the source?

Leave a Reply

Your email address will not be published.